google.com, pub-4122156889699916, DIRECT, f08c47fec0942fa0

बिट कॉइन किसे कहते हैं और इसके क्या फायदे होते हैं तथा इसके क्या नुकसान होते हैं और इसको कँहा से खरीद सकते हैं



बिट कॉइन किसे कहते हैं और इसके क्या फायदे होते हैं तथा इसके क्या नुकसान होते हैं और इसको कँहा से खरीद सकते हैं ? 

 
द्वारा :  दर्शन लाल और सुलोचना देवी
03 जुलाई 2022 

दोस्तों, इसको हम कई भागों में बाँट लेते हैं सबसे पहले जानते हैं :- 


बिट कॉइन किसे कहते हैं? :- 

बिट कॉइन एक प्रकार की डिजिटल करेंसी है जोकि पूर्णतया मुक्त रूप  कार्य करती है या यों कहलो इसके ऊपर किसी बैंक या सरकार का कोई कन्ट्रोल नहीं होता है यह ऐसी करेंसी है जोकि पूरी तरह से वर्चूअल होती है इसको कैश (पैसों)का ऑनलाइन वर्जन भी कह सकते हैं | 

क्योंकि बिट कॉइन एक डेसेंट्रलीज़ेड डिजिटल कैश होता है इसलिए  सभी ट्रांज़ैक्शन को पूर्ण होने के लिए पेअर में कंप्यूटर नेटवर्क का इस्तेमाल किया जाता है यँहा पर जितनी भी खरीदारी होती है वह खरीदने वाले के द्वारा कन्फर्म की जाती है इसमें किसी बैंक या सरकार का कोई किसी प्रकार का हस्तक्षेप नहीं होता है |  

कुछ लोगों ने बिटकॉइन के बारे में जरूर सुना होगा और जिन लोगों को बिटकॉइन के में जानकारी नहीं है उनको इस लेख के द्वारा जानकारी मिल जाएगी| जी हाँ, आज मै आपको बिटकॉइन क्या है इसके बारे में बताने वाला हूँ।

बिटकॉइन क्या है :- 

बिटकॉइन एक विकेन्द्रीकृत मुद्रा है, जिसका अर्थ है कि यह किसी विशिष्ट देश या मुद्रा से बंधा हुआ नहीं है यह ब्लॉकचैन तकनीक के शीर्ष पर बनी हुई एक मुद्रा है | जिसका अर्थ यह है कि बिटकॉइन के साथ  सार्वजनिक रूप से और कालानुक्रमिक रूप से ब्लॉकचेन पर संग्रहित किये जाते हैं | इस प्रकार अभी तक किये गए सभी लेन - देन को कोई भी देख सकता है |  

बिटकॉइन को सन्न 2009 में एक व्यक्ति या समूह द्वारा सतोषी नाकामोतो नाम पेश किया गया था बिटकॉइन का मतलब नकदी का एक डिजिटल संस्करण बनाने का एक तरीका था , जँहा एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को किसी वित्तीय संस्थान अन्य बिचौलिए के माध्यम से भुगतान किए बिना भुगतान किया  सकता है जो इस प्रकार के भुगतान के लिए शुल्क ले सकते हैं और प्रकिर्या  के समय को धीमा सकते हैं | 


bitcoin kya hai


बिटकॉइन का इस्तेमाल कोई भी कर सकता है जैसे हमसब इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और उसका कोई भी मालिक नहीं है ठीक उसी प्रकार बिटकॉइन है | 

आजकल इंटरनेट की मदद से पैसे कामना भी मुमकिन हो गया है ऐसे बहुत सारे तरीके हैं जिससे हम घर बैठे ही इंटरनेट से पैसे कमा सकते हैं उन में से एक तरीका है बिटकॉइन, बिटकॉइन से भी हम बहुत पैसे कमा सकते हैं| 

आप में से बहुत लोगों ने बिटकॉइन के बारे में सुना होगा और जिन्हे बिटकॉइन के बारे में कुछ भी नहीं पता है वो इस आर्टिकल के जरिये जान जायेंगे | आज मैं आपको बिटकॉइन क्या है उसके बारे में बता रहा हूँ | 

बिटकॉइन का इस्तेमाल क्यों किया जाता है? :- 

बिटकॉइन का इस्तेमाल का ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए या किसी भी तरह का ट्रांसक्शन्स करने के लिए कर सकते हैं | बिटकॉइन पेअर टू पेअर नेटवर्क बेस्ड पर काम करता है  इसका मतलब है कि लोग एक दूसरे के साथ सीधा ही बिना किसी बैंक, क्रेडिट कार्ड या फिर किसी कंपनी के माध्यम से आसानी से ट्रांज़ैक्शन्स कर सकते हैं|  

बिटकॉइन को ट्रांज़ैक्शन्स में इस्तेमाल करने के लिए सबसे तेज और कुशल माना जाता है आज बहुत से लोग बिटकॉइन को अपना रहे हैं जैसे ऑनलाइन डेवेलपर्स, एन्त्रेप्रेंयूर्स(entrepreneurs), नॉन प्रॉफिट आर्गेनाइजेशन इत्यादि और इसी कारण बिटकॉइन का इस्तेमाल पूरी दुनिया में ग्लोबल पेमेंट के लिए किया जा रहा है |  


crypto currency


जैसे बाकी कर्रेंसी का इस्तेमाल हम ऑनलाइन ट्रांज़ैक्शन के लिए करते हैं तो बैंक के पेमेन्ट प्रोसेस को हमें फॉलो करना होता है तभी जाकर हम पेमेंट कर पाते हैं और हमारे द्वारा किए गए हर ट्रांज़ैक्शन का हिसाब हमारे बैंक अकाउंट में मौजूद रहता है जिससे ये पता लगाया जा सकता है कि पैसे कँहा और कितने खर्च किये गए हैं | लेकिन बिटकॉइन का तो कोई भी मालिक नहीं है इसलिए उसके साथ किये गए ट्रांज़ैक्शन एक पब्लिक लेजर(खाते) में रिकॉर्ड होता रहता है जिसे बिटकॉइन "ब्लैकचैन"(Blackchain) कहते हैं| 

इस  ब्लैकचैन में ही बिटकॉइन के साथ किए गए सभी ट्रांज़ैक्शन स्टोर होते रहते हैं और यही एकमात्र इसका प्रमाण है कि ट्रांज़ैक्शन हुआ या नहीं | 

बिटकॉइन का आज का मार्किट वैल्यू (रेट) :-

बिटकॉइन की कीमत कम या ज्यादा होती रहती है क्योंकि इसको कण्ट्रोल करने के लिए कोई अथॉरिटी नहीं है इसलिए इसकी वैल्यू इसकी डिमांड के हिसाब से बदलती रहती है परन्तु आज इसकी मार्किट वैल्यू 19063 US डॉलर है जोकि इंडियन करेंसी में बदलने पर बनती है 1,502,056. 00 रुपये | 

 

बिटकॉइन वालेट क्या है और इसकी जरुरत क्यों? :- 

बिटकॉइन को सिर्फ इलेक्ट्रानिकली स्टोर (electronically store) करके रख सकते हैं और इस को रखने के लिए बिटकॉइन वालेट की जरुरत पड़ती है बिटकॉइन वालेट कईं प्रकार के होते हैं :- 

डेस्कटॉप वॉलेट, मोबाइल वॉलेट, ऑनलाइन/वेब-बेस्ड वॉलेट, हार्डवेयर वॉलेट | इनमे से किसी एक वॉलेट का इस्तेमाल कर इसमें अकाउंट बनाना होता है | 

यह वॉलेट हमें एड्रेस के रूप में यूनिक ईद(ID) प्रदान करता है जैसे कि मान लीजिये आप ने कंही से बिटकॉइन कमाया है और उसको आप अपने अकाउंट में स्टोर करना है तब आपको वँहा पर उस एड्रेस की जरुरत पड़ेगी और उसी की मदद से आप बिटकॉइन को अपने वॉलेट में रख सकते हैं | 

अगर आपको बिटकॉइन खरीदना या बेचना है तो आपको बिटकॉइन वॉलेट की जरुरत पड़ती है और आप जो बिटकॉइन बेचते हैं उसके बदले में आपको जितने भी पैसे मिलते है वो आप अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं इस बिटकॉइन वॉलेट के द्वारा | 


बिटकॉइन को कैसे कमाए? :- 

बिटकॉइन को आप तीन प्रकार से कमा सकते हैं | 

1.  अगर आप ऑनलाइन किसी को कोई सामान बेच रहे हैं और उस खरीदार का पास अगर बिटकॉइन मौजूद हैं तब उससे आप पैसे के बदले में बिटकॉइन ले सकते हैं ऐसे में आप उसको सामान भी बेच देंगे और आपको बिटकॉइन भी मिल जायेगा जो आपके बिटकॉइन वॉलेट में स्टोर हो जायेगा|

आप अगर चाहे तो  बिटकॉइन को दुसरे व्यक्ति को ज्यादा दामों  पर बेचकर मुनाफा भी कमा सकते हैं| 

 2. दूसरा तरीका है बिटकॉइन माइनिंग का इसके लिए आपको हाई स्पीड प्रोसेसर वाले कम्प्यूटर की जरुरत पड़ेगी जिसका हार्डवेयर भी अच्छा होना चाहिए | आप बिटकॉइन का इस्तेमाल सिर्फ ऑनलाइन पेमेंट करने  करते हैं और जब कोई बिटकॉइन से पेमेंट करता है  ट्रांज़ैक्शन को वेरीफाई किया जाता है | जो इनको वेरीफाई करते हैं उनको मिनर्स(Miners) कहते हैं और  उन मिनर्स के पास हाई परफॉरमेंस कम्प्यूटर और जीपीउ(GPU) होता है इसके जरिये ही ट्रांज़ैक्शन को वेरीफाई करते हैं वो यह वेरीफाई करते हैं कि ट्रांज़ैक्शन सही है या नहीं या उसमे किसी प्रकार की हेरा फेरी तो नहीं की गई है | 

इस वेरिफिकेशन के बदले में उनको  बिटकिन्स इनाम के रूप में मिलता है और इस तरीके से नए बिटकॉइन आते हैं | 

यह काम कोई भी कर सकता है इसके लिए हाई स्पीड प्रोसेसर वाले कम्प्यूटर की जरुरत होती है जिसको खरीदना हर किसी के बजट में नहीं होता |  

जैसे हर देश में करेंसी को छापने की एक वर्ष की एक लिमिट होती है उसी प्रकार बिटकॉइन के साथ भी कुछ सीमाएं तय की गई है कि 21 मिलियन से ज्यादा बिटकॉइन मार्किट में नहीं आ सकते हैं इसकी लिमिट २१ मिलियन बिटकॉइन एक वर्ष की है इससे ज्यादा बिटकॉइन कभी भी मार्किट में नहीं होंगे | 

अगर हम अभी की बात करें तो  तक़रीबन 15  बिटकॉइन आ चुके हैं और नए बिटकॉइन जो है अब माइनिंग के द्वारा आयेंगे | 

3.  अगर आपके पास पैसा है तप आप एक बिटकॉइन सीधे तक़रीबन 1000 डॉलर देकर खरीद सकते हैं अगर आपको एक बिटकॉइन पूरा नहीं खरीदना है तो आप बिटकॉइन की सबसे छोटी यूनिट "सातोशी" भी खरीद सकते हैं | 

जैसे भारत में एक रूपए में सौ पैसे होते है ठीक उसी प्रकार एक बिटकॉइन में दस करोड़ सातोशी होते हैं यदि आप चाहे  की सबसे छोटी रकम सातोशी खरीद कर धीरे धीरे एक या उससे ज्यादा बिटकॉइन जमा कर सकते हैं और जब उसका प्राइस बढ़ेगा तब उसे बेच कर ज्यादा पैसे कमा  सकते हैं |   

जल्दी ही आपको बिटकॉइन अकाउंट कैसे बनाये की पूरी जानकारी दी जाएगी| 


बिटकॉइन के फायदे ? :-

आइये जानते हैं बिटकॉइन के फायदों के बारे में :-

यँहा पर आपका ट्रांज़ैक्शन फीस क्रेडिट और डेबिट कार्ड से पेमेन्ट करने के मुकाबले बहुत कम होती है | 

 बिटकॉइन को दुनिया में कंही भी बिना किसी परेशानी के कभी भी बेच सकते हैं |  

यँहा पर बिटकॉइन का अकाउंट ब्लॉक नहीं होता है जैसे कभी कभी कारण  हमारे क्रेडिट या डेबिट कार्ड को ब्लॉक कर देता है वो समस्या यँहा पर नहीं होती है | 

अगर आप लॉन्ग टर्म के लिए बिटकॉइन में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आपको इससे काफी हो सकता है क्योंकि ऐसा रिकॉर्ड  गया है कि बिटकॉइन की कीमत जो है वो बढ़ रही है आगे चल कर हो सकता है आपको इससे बहुत ज्यादा फायदा मिले |

बिटकॉइन  ट्रांज़ैक्शन प्रोसेस  या अथॉरिटी आपके ऊपर नजर नहीं रखती है इसलिए बहुत से लोग इसका इस्तेमाल गलत काम करने के लिए करते हैं तो ये उनके लिए फायदेमंद होता है | 


बिटकॉइन के नुकसान क्या है? :-

आइये जानते हैं बिटकॉइन के क्या - 2 नुकसान होते हैं | 

(अ) अगर बिटकॉइन अकाउंट हैक हो जाता है तो आप अपने सारे बिटकॉइन खो देंगे और उन्हें वापिस नहीं लाया जा सकता आपकी कोई भी मदद नहीं कर पायेगा | 

(ब) बिटकॉइन को कन्ट्रोल करने के लिए कोई अथॉरिटी, गवर्नमेंट या  बैंक नहीं है तो इसकी कीमत में काफी उतार -चढ़ाव होता रहता है इसलिए थोड़ा रिस्की है | 

बिटकॉइन कैसे खरीदें? :- 

आप बिटकॉइन को जैसे सोना खरीदते है वैसे ही इसको खरीद सकते हैं वो भी इंडियन करेंसी में |  

भारत में वो वेबसाइट जंहा से हम बिटकॉइन खरीद सकते हैं वह भी इंडियन करेंसी में यानि रुपये देकर | 

इन वेबसाइट पर आप बड़ी आसानी से मौजूदा कीमत देख सकते हैं वह भी रियल टाइम में | 

इन वेबसाइट के नाम इस प्रकार हैं :-

(अ) युनोकॉइन(Unocoin) 

(ब) जेबपे (Zebpay) 

(स) वज़ीरक्स (Wazirx)  

बिटकॉइन किस देश की करेंसी है? :-

अल साल्वाडोर देश ने ९ जून को एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए क़ानूनी निविदा के रूप में अपनाने के लिए कानून पारित करके दुनिया का पहला देश बन गया | 


क्या भारत में बिटकॉइन को मान्यता (लीगल) है या नहीं? :- 

भारत में बिटकॉइन को खरीदने और बेचने की मान्यता है | 

भारत में क्रिप्टो करेंसी कैसे खरीदें? :- 

भारत में क्रिप्टो करेंसी वज़ीरक्स प्लेटफॉर्म(Wazirx Plateform ) के जरिये खरीद सकते हैं | 


ये थी बिटकॉइन से जुड़ी कुछ जानकारी, मुझे उम्मीद है कि आपको समझ में आ गया होगा, "कि बिटकॉइन क्या है और उसे कैसे पाया जा सकता है, और उसके क्या फायदे तथा क्या नुक्सान हैं | 

मेरी कोशिश है कि बिटकॉइन और दूसरे क्रिप्टो करेंसी से जुडी वो सभी जानकारी प्रदान करूँ जो महत्वपूर्ण हैं | मैं आपको बिटकॉइन के बारे में ऐसी ही और जानकारी भी प्रदान करता रहूँगा | यदि आपको भी बिटकॉइन के बारे में कुछ मालूम है तो आप मेरे साथ शेयर जरूर करें | 

संक्षेप 

 बिटकॉइन एक क्रिप्टो करेंसी है या आप उसे वर्चुअल करेंसी भी कह सकते हैं | इसका वैल्यू लगातार बढ़ रहा है| अगर आप अपने पैसों को इन्वेस्ट करना चाहते है तो ये आपके लिए एक अच्छा अवसर है | 



·         TAGS

·         Bitcoin

·         Internet

·         Make Money

·         Online

·         Unocoin

·         Zebpay

·         बिटकॉइन इन हिंदी

·         बिटकॉइन क्या है


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ