https://www.bing.com/webmasters?tid=56256cd2-0b6b-4bf5-b592-84bcc4406cf4 google.com, pub-4122156889699916, DIRECT, f08c47fec0942fa0 वीजा क्या होता है , वीजा के प्रकार और वीजा अप्लाई कैसे करें? - (in hindi ) google.com, pub-4122156889699916, DIRECT, f08c47fec0942fa0 Verification: 7f7836ba4c1994c2

वीजा क्या होता है , वीजा के प्रकार और वीजा अप्लाई कैसे करें? - (in hindi )



वीजा क्या होता है , वीजा के प्रकार और वीजा अप्लाई कैसे करें?  - in hindi 

वीजा किसे कहते हैं या वीजा क्या है ?
 

आप हम अपने देश में कंही भी घूम फिर सकते हैं इसके लिए किसी की परमिशन की जरुरत नहीं लेनी पड़ती | लेकिन यदि आप - हम किसी दूसरे देश में जाना चाहते हैं तो उसके लिए दो चीजों की जरुरत होती है एक स्वयं का पासपोर्ट और दूसरा उस देश का वीजा जंहा पर आप जाना चाहते हैं | पासपोर्ट तो आप आसानी से प्राप्त कर सकते हैं मगर सबसे ज्यादा परेशानी वीजा लेने में आती है | 

visa kya h




वीजा को आसान भाषा में परमिशन कहते हैं जब हम एक देश से दूसरे देश की यात्रा करते हैं तो उसके लिए हमें वीजा अनिवार्य लेना पड़ता है | यदि आप किसी देश की सीमा में बिना विज़ा के घूसते हैं तो वह गैर कानूनी माना  जाता हैं तथा वँहा पर आपको कैद भी किया जा सकता है | 

वीजा की फुल फॉर्म (Visa Full Form Visa)

वीजा (VISA) की फुल फॉर्म होती है Visitor International Stay Admission. और हिंदी भाषा में विजिटर्स इंटरनेशनल स्टे एडमिशन भी कहते है. वही इसको  लेटिन भाषा में कहा जाए तो “Paper that has been seen”.

वीजा के लिए आवेदन प्रकिया (How to Apply for Visa)

वीजा के लिए आज के समय में आवेदन करना बहुत ही सरल हो चुका है 2 तरीके से वीजा के लिए आवेदन किया जा सकता है पहला तरीका ऑनलाइन और दूसरा तरीका ऑफलाइन है। आज के समय में जिस तरीके का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है वह ऑनलाइन है क्योंकि इसमें किसी भी तरीके की परेशानी नहीं होती है।

  • ऑफलाइन आवेदन : वीजा के लिए ऑफलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने शहर के दूतावास केंद्र पर जाना होगा। वहां पर आपको एक फॉर्म दिया जाएगा जिसमें आपको यह बताना होगा कि आप किस उद्देश्य के लिए विदेश जाना चाहते हैं सही जानकारी भरने के बाद जो भी डॉक्यूमेंट रहेंगे उनकी फोटो कॉपी अटैच करनी होगी।  आपके फॉर्म  की सरकारी अधिकारी के द्वारा पूरी तरीके से जांच की जाएगी यदि आप उनके बनाये गए क्राइटेरिया में आते हैं तो आपको विदेश का वीजा मिल जाता है।
  • ऑनलाइन आवेदन :  जिस भी देश में वीजा के लिए आवेदन करना चाहते हैं उसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा वहां आपको Apply For Visa का एक ऑप्शन दिखाई देगा इसके बाद आपके सामने ऑनलाइन आवेदन का फॉर्म निकल कर आएगा इसमें आपको सभी जानकारी सही तरीके से भर देनी है।  जो भी दस्तावेज पूछे जाते हैं उनकी स्कैन कॉपी आपको अपलोड करनी होती है जब सारी जानकारी भर दी जाये  उसके बाद सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करके पेमेंट कर देना है। कुछ ही समय में उस आवेदन प्रक्रिया को जांचा जाएगा यदि आप योग्य हैं तो वीजा आपको मिल जाता है।

वीजा आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज (Visa Registration Documents Required)

  • पासपोर्ट
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो
  • नियुक्ति पत्र (अप्वाइंटमेंट लेटर)
  • वीज़ा भुगतान रसीद






अप्वाइंटमेंट लेटर यह आपको तब मिलता है जब आप इंटरव्यू में सफल होते हैं क्योंकि आप जिस भी देश में जाना चाहते हैं उसके दूतावास के लोग आपका एक इंटरव्यू लेते हैं जिसमें वह देखते हैं कि आप इस देश में जाने के योग्य है या नहीं।

वीजा एप्लीकेशन रिजेक्ट होने के कारण

  • वीजा एप्लीकेशन रिजेक्ट होने का सबसे बड़ा कारण यह है कि दी गई जानकारी गलत होना
  • जो भी व्यक्ति विदेश जाना चाहता है उसके पास वहां पर जाने के लिए कोई वजह ना हो।
  • आवेदन कर्ता पर किसी भी तरीके का कोई पुलिस केस हो। या फिर दो देशो के आपसी सम्बन्ध ठीक ना होने की वजह से भी एप्लीकेशन रिजेक्ट हो सकता है।

वीजा के प्रकार (Types Of Visa)

वीजा लेने के लिए आपको पहले कारण बताना होगा उसके बाद ही आपको वीसा मिल सकता है.वीजा लेना कोई आसान काम नहीं होता है इसको लेने से पहले आपको यह बताना होता है कि आखिर किस काम के चलते आप विदेश जाना चाहते हैं और कितने समय के लिए जाना चाहते हैं। उसी के आधार पर वीजा मिलता है. वीजा के बहुत से प्रकार होते हैं-

Immigrant Visa (इमिग्रेंट वीजा)  यह वीजा केवल उन लोगों को दिया जाता है जो स्थाई रूप से किसी दूसरे देश में रहना चाहते हैं इस वीजा के बिना स्थाई रूप से मान्यता प्राप्त नहीं होती है।

Non-Immigrant Visa (नॉन-इमिग्रेंट वीजा) – इस वीजा के तहत कोई भी व्यक्ति सीमित अवधि के लिए विदेश में यात्रा कर सकता है इसके लिए उसे बताना पड़ेगा कि किस काम के लिए वह विदेश में यात्रा कर रहा है।

Transit Visa (ट्रांजिट वीजा) –  यह वीजा 5 दिनों के लिए ही मान्य होता है इस तरह के वीजा को जारी इसलिए किया जाता है क्योंकि यदि किसी व्यक्ति दुसरे देश होते हुए तीसरे देश जाना हो तो उस कंडीशन में ट्रांजिट वीजा बनाया जाता है.

Tourist Visa (टूरिस्ट वीजा) –  यह वीजा उन लोगों को दिया जाता है जो दूसरे देश में घूमने के उद्देश्य से जाते हैं घूमने के अलावा यहाँ नागरिक किसी भी तरीके का कार्य नहीं कर सकते हैं। हमारे देश भारत के अलावा ऐसे बहुत सारे बड़े-बड़े देश हैं जिन्होंने टूरिस्ट वीजा की अनुमति दे रखी है।

Business Visa (बिज़नस वीजा) – इस तरह का वीजा व्यापरिक लोगो को मिलता है. जो सिर्फ 5 वर्ष के लिए मान्य होता है. यह वीजा प्राप्त कर नागरिक औद्योगिक/व्यावसायिक उद्यम स्थापित कर सकता है. और औद्योगिक/वाणिज्यिक उत्पादों बेचने और खरीदने का काम करनेवाले नागरिकों को भी दिया जा सकता है.

On -Arrival Visa (ऑन-अराइवल वीजा) –  यह वीजा उस वक्त दिया जाता है जब कोई व्यक्ति दूसरे देश में प्रवेश करता है लेकिन इस वीजा को लेने के लिए उसके पास पहले से वीजा होना अनिवार्य है। क्योंकि आपके देश का इमिग्रेशन विभाग फ्लाइट में बोर्ड करने से पहले ही उसे चेक करता है।


visa kitne parkar ke hote hai


Student Visa (स्टूडेंट वीजा) –  यह वीजा केवल स्टूडेंट को ही दिया जाता है जो सिर्फ 5 साल के लिए मान्य होता है. यह वीजा लेने के लिए आवेदन को मान्यता प्राप्त या प्रतिष्ठित शैक्षिक संस्थान में प्रवेश पत्र एवं वित्तीय सहायता का प्रमाण पत्र दिखाना होता है.

Marriage Visa (मैरिज वीजा) – यह वीजा भी एक निर्धारित समय अवधि के लिए ही वैध होता है यदि कोई विदेशी लड़का या लड़की से शादी करना चाहता है तो उसे उन्हीं के देश के एम्बेसी में जाकर इस वीजा के लिए आवेदन करना होता है। जब एक बार यह वीजा मिल जाता है तो वह उस देश में जाकर शादी कर सकता है।

Employment Visa (रोजगार वीजा) – जो लोग एक देश से दूसरे देश में रोजगार के लिए जाना चाहते हैं तो उन्हें एंप्लॉयमेंट विजा लेना होता है। यदि दूसरे देश में आपका कोई जानकार व्यक्ति है तो वहां से वह वीजा भेज सकता है लेकिन यदि आपका कोई जानकार नहीं है तो आपको दूसरे देश के पास रिक्वेस्ट लेटर भेजना होता है जब वहां से एक बार कंफर्मेशन आ जाती है तो आप दूसरे देश में रोजगार के लिए जा सकते हैं।

Common Visa (साधारण वीज़ा) – वीजा के प्रकारों में यह सबसे साधारण प्रकार माना जाता है जैसी बात करें भारत की तो भारत में नेपाल और भूटान के लोग बड़ी आसानी से आ सकते हैं कॉमन वीजा के तहत। कुछ ही देर में कॉमन वीजा जारी हो जाते है.

निष्कर्ष-उम्मीद करते है दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई वीजा क्या होता है, वीजा कैसे बनता है, वीजा अप्लाई कैसे करे, वीजा के प्रकार, वीजा के लिए आवेदन, वीजा फीस के बारे में. अच्छे से समझ में आ गई होंगी। यदि आप भी किसी दूसरे देश में जाना चाहते हैं और उसके वीजा के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो बताए गए तरीके से यह काम कर सकते है।

FAQ

Q : वीजा की फुल फॉर्म क्या है?
Ans : वीजा (VISA) की फुल फॉर्म है Visitors International Stay Admission.

Q : वीजा कितने प्रकार के होते है?  
Ans : वीजा 19 तरह के होते है राजनयिक वीजा, ट्रांजिट वीजा, ऑन-अराइवल वीजा, टूरिस्ट वीजा, रोजगार वीजा, परियोजना वीजा, छात्र वीजा, पत्रकार वीजा, व्यापार वीजा, पर्वतारोहण वीजा, सम्मेलन/संगोष्ठी वीजा, अनुसंधान वीजा, चिकित्सा वीजा, यूनिवर्सल वीजा, मैरिज वीजा, पार्टनर वीजा, इमिग्रेंट वीजा, पेंशन वीजा, कोर्टेजी वीजा।

Q : वीजा बनवाने के लिए कौन-कौन से डॉक्यूमेंट चाहिए?
Ans : पासपोर्ट,दो पासपोर्ट साइज फोटो, नियुक्ति पत्र (अप्वाइंटमेंट लेटर), वीज़ा भुगतान रसीद



यह भी पढ़ेँ  :-

दुनिया में कितने महाद्वीप हैं (How many mahadweep in the world) 






एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ